उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार शिवसेना पर तीखा हमला बोला और उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली पार्टी पर बीजेपी की ‘पीठ में खंजर घोंपने’ का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि शिवसेना के कर्म मराठा योद्धा महाराजा छत्रपति शिवाजी महाराज से बिल्कुल अलग हैं।
योगी ने पालघर लोकसभा उपचुनाव के लिए 28 मई को होने वाले मतदान के लिए एक प्रचार रैली में बीजेपी से नाराज चल रहे सहयोगी दल शिवसेना पर निशाना साधा। उन्होंने शिवसेना पर उपचुनाव में पूर्व सांसद दिवंगत चिंतामन वनगा के बेटे को खड़ा करके भगवा दल के आंतरिक मामलों में ‘टांग अड़ाने’ का भी आरोप लगाया।

योगी ने कहा, जिस तरीके से इस पार्टी ने अपना उम्मीदवार खड़ा कर बीजेपी की पीठ में खंजर घोंपा है उससे मैं कह सकता हूं कि दिवंगत बाल ठाकरे की आत्मा को गहरा दुख पहुंचा होगा। उन्होंने कहा, यह उपचुनाव सरकार की स्थिरता पर असर नहीं डालेगा लेकिन इससे यह संदेश जरूर जाएगा कि भारत केवल मोदी के नेतृत्व में ही प्रगति कर सकता है। उनकी यह टिप्पणी तब आई जब कुछ घंटे पहले बेंगलुरू में जद(एस) नेता एचडी कुमारस्वामी ने एक भव्य समारोह में कर्नाटक के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। योगी ने आरोप लगाया कि भाजपा के खिलाफ माहौल बनाने की कोशिश की गई है।
भाजपा पर बोलते रहे हैं ठाकरे लगातार हमला

बता दें कि महाराष्ट में शिवसेना भाजपा सरकार की सहयोगी पार्टी है, लेकिन उसके बाद भी शिवसेना लगातार हमलावर रही है, केन्द्र की मोदी सरकार से लेकर लगभग सभी भाजपा सरकारों की कार्यशैली और नीतियों की आलोचना करने के मामले में शिवसेना ने विपक्ष की भूमिका निभायी है, ऐसे में 2019 के पास आते ही भाजपा के तरफ से भी शिवसेना पर हमले होना शुरू हो गए हैं, जाहिर हैं, समय की सियासत होती है।

हिन्दी गैजेट टीम

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here