credit-indianexpress

देश की सबसे मशहूर यूनिवर्सिटी में शुमार JNU में कल  दिल्ली पुलिस  ने कैंपस  में एक छात्रा के साथ कथित तौर पर यौन उत्पीड़न के आरोप में ‘जेएनयू के योगी’ के नाम से मशहूर राघवेंद्र मिश्रा को गिरफ्तार किया है. आरोपी राघवेंद्र मिश्रा पर कैंपस के अंदर एक छात्रा के साथ यौन उत्पीड़न करने का आरोप लगा है. पुलिस ने आरोपी के खिलाफ भारतीय दंड संहिता (IPC) की धारा 354 और 323 के तहत मामला दर्ज़ कर लिया है |

बुधवार शाम को ही आरोपी की  गिरफ्तारी हो चुकी है
बसंत कुंज नॉर्थ थाना पुलिस ने बुधवार शाम राघवेंद्र मिश्रा को गिरफ्तार किया. जेएनयू का छात्रसंघ चुनाव लड़ने वाले राघवेंद्र मिश्रा पर कैंपस के हॉस्टल में इस तरह की हरकत करने का आरोप है. मिली जानकारी के मुताबिक यूनिवर्सिटी की एक छात्रा ने आरोपी पर कमरे में बुलाकर उससे छेड़छाड़ करने का आरोप लगाया है, युवती ने कहा की जैसे ही योगी ने बदतमीज़ी की कोशिश की तुरंत उसने शोर मचा दिया और आस पास के लोग और गार्ड वह इकट्टा हो गए और पुलिस को बुला लिया गया’ आरोपी राघवेंद्र मिश्रा जेएनयू के संस्कृत सेंटर में पढ़ाई कर रहा है |

credit-ANI twitter

न्यूज एजेंसी ANI के मुताबिक, पुलिस ने राघवेंद्र के खिलाफ IPC की धारा 354 (महिला की मर्यादा भंग करने के लिए उस पर हमला या जबरदस्ती) और 323 (जान-बूझकर किसी को चोट पहुंचाना) के तहत केस दर्ज कर लिया. 5 फरवरी, बुधवार की शाम तक आरोपी की गिरफ्तारी कर ली गई |

आरोपी ने JNU छात्रसंघ का चुनाव भी लड़ा है  

राघवेंद्र मिश्रा उर्फ योगी बाबा ने वर्ष 2019 में जेएनयू छात्रसंघ के अध्यक्ष पद का चुनाव लड़ा था. पूर्व में एबीवीपी कार्यकर्ता रहे राघवेंद्र ने निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर नामांकन दाखिल किया था. प्रेसेडेंशियल डिबेट के दौरान दिए अपने भाषण के बाद वो चर्चा में आए थे|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here