credit- news nation

शाहीन बाग़ विवाद- कपिल गुज्जर, बीजेपी और आम आदमी पार्टी
1 फरवरी 2020 को शाहीन बाग़ में एक युवक ने गोली चलायी. हवाई फायरिंग के तुरंत बाद उस ने बोला-
हमारे देश में और किसी की नहीं चलेगी, सिर्फ़ हिंदुओं की चलेगी.

मौके पे मौजूद कुछ लोगों का यह भी कहना है की उसने गोली चलाते वक़्त जय श्री राम के नारे भी लगाए थे. दिल्ली पुलिस के डीसीपी (क्राइम ब्रांच) राजेश देव ने कहा है कि कपिल गुर्जर आम आदमी पार्टी का सदस्य है और उसके पिता साल 2019 की शुरुआत में आम आदमी पार्टी में शामिल हुए थे. इस मामले में पुलिस ने कुछ ऐसी तस्वीरें भी जारी की जिनमें दिल्ली के दल्लूपुरा गांव का रहने वाला कपिल गुर्जर आम आदमी पार्टी के नेता संजय सिंह और आतिशी मार्लेना के साथ नज़र आ रहा था.

डीसीपी राजेश देव ने मंगलवार को मीडिया से बातचीत में कहा, “जब हमने कपिल से पूछताछ की तो उसने स्वीकार किया कि उसने आम आदमी पार्टी की सदस्यता ली थी.
इसके बाद सोशल मीडिया पर जंग सी छिड़ गयी. ऐसे कई स्क्रीनशॉट मीडिया पर पाए गए जिसमे कपिल के पिता गाजे सिंह के आम आदमी पार्टी से होने के दावे किये गए. इनमे से एक स्क्रीनशॉट कोंडली से आम आदमी पार्टी विधायक कुलदीप कुमार के नाम से हुआ जिसमे एक ट्विटर पोस्ट के माध्यम से गाजे सिंह का आम आदमी पार्टी से होने का दावा किया गया

कपिल के परिवार का पक्ष

कपिल गुर्जर के परिजनों ने दिल्ली पुलिस के दावों से इनकार किया है और कहा है कि उनका आम आदमी पार्टी से कोई सम्बन्ध नहीं है. साथ ही ये भी पता चला है कि कपिल के पिता ने साल 2008 में बहुजन समाज पार्टी के टिकट पर विधानसभा का चुनाव लड़ा था. हालांकि वो हार गए थे.

कपिल के परिजनों का ये भी कहना है कि संजय सिंह और आतिशी मार्लेना के साथ उसकी जो तस्वीरें सामने आई हैं, वो उस वक़्त की हैं कि जब आम आदमी पार्टी के नेता लोकसभा चुनाव के दौरान उनके गांव के पास प्रचार कर रहे थे.कपिल के भाई ने कहा, “हमारा न तो आम आदमी पार्टी से कोई सम्बन्ध है और न हम पार्टी में किसी पद पर हैं.”

बीजेपी का आप पर हमला
दिल्ली पुलिस का बयान सामने आने के बाद बीजेपी के प्रकाश जावड़ेकर ने कहा, “ये राजनीति आम आदमी पार्टी की है और वो दंगा भड़काना चाहती है. ये हिंसा भी करेंगे, बस को आग लगाएंगे, वाहनों को जलाएंगे, पुलिस पर पथराव कराएंगे और हिंसा करके दिल्ली का माहौल ख़राब करने की कोशिश करेंगे. तब भी दिल्ली शांत रही तो इन्होंने ये गोलीकांड करवा दिया. ये ऐसी पार्टी है कि युवक को माला भी पहना दी और उससे गोली भी चलवा दी.”

बीजेपी नेता कपिल मिश्रा ने भी इस बारे में ट्वीट करके आम आदमी पार्टी को निशाना बनाया. उन्होंने लिखा, “पहले शाहीन बाग में तंबू लगवाओ. फिर अपने कार्यकर्ता से उनपर गोली चलवाओ. चंद वोटों के लिए दिल्ली में आग लगवाओ. पंजाब में भी चुनाव से ठीक पहले केजरीवाल खालिस्तानी आंतकवादी के घर रुके थे. देश तोड़ना, आग लगाना… यही हैं AAP की राजनीति का सच.”

आम आदमी पार्टी का एलान
आम आदमी पार्टी ने आरोपों से साफ़ इंकार करते हुए इसके खिलाफ चुनाव आयोग जाने की बात कही है. दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल कहते हैं,”बीजेपी दिल्ली पुलिस का इस्तेमाल कर रही है. अमित शाह जी ऐसे टुच्चे-टुच्चे षड़यंत्र करते हैं. अगर कपिल के आम आदमी पार्टी से कोई संबंध है तो उसे कठोर सज़ा मिले.

आम आदमी नेता संजय सिंह ने कहा, “अगर कोई फ़ोटो जांच का हिस्सा है तो वो मीडिया के पास कैसे पहुंच गई? भाजपाइयों के पास कैसे पहुंच गई? तीन दिन से भाजपाई लगातार कह रहे हैं कि इसमें आम आदमी पार्टी के लोग शामिल हैं. इसका मतलब क्या ये है कि क्राइम ब्रांच जांच की सारी जानकारी भाजपाइयों के साथ साझा कर रही है?”

फिलहाल विवाद अभी शांत हो गया है और पुलिस की तरफ से कोई ख़ास टिपण्णी नहीं आई है.

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here