credit-unsplash

बिहार के सासाराम में कांग्रेस विधायक संतोष मिश्रा के भतीजे की गोली मारकर हत्या करने का मामला सामने आया है। शनिवार को तीन बाइक सवार हमलावरों ने कांग्रेस विधायक संतोष मिश्रा के भतीजे को गोली मार दी, जिसके बाद उसकी मृत्यु हो गई।

बता दें कि संजीव मिश्रा परसथुआ में स्थित अपने आवास से बाहर आ रहे थे कि तभी बाइक सवारों ने उन पर गोली बरसा दी। अस्पताल ले जाते समय में संजीव मिश्रा की मौत हो गई। पुलिस ने इस मामले में शिकायत दर्ज कर ली है। सूत्रों ने जानकारी दी कि इस घटना के पीछे पुरानी रंजिश को कारण माना जा रहा है।

पोस्टमार्टम के लिए संजीव मिश्रा का शव सदर अस्पताल भेज दिया गया है। बता दें कि इस बार राज्य में होने वाले पंचायत चुनावों में संजीव मिश्रा लड़ने की तैयारी कर रहे थे। संजीव मिश्रा ने पिछले साल के विधानसभा चुनाव में अपने चाचा संतोष मिश्रा के लिए बड़े पैमाने पर अभियान चलाया था।

एहतियाद के तौर पर पुलिस ने परसथुआ गांव में भारी पुलिल बल तैनात किया है। डीएसपी विनोद कुमार रावत के तहत पुलिस बल की तैनाती की गई है। अपराधी को पकड़ने के लिए छापे मारे जा रहे हैं और इसके अलावा संजीव मिश्रा के परिवार में से एक सदस्य से पूछताछ भी की गई है।

इस मामले की कार्रवाई रोहतास एसपी आशीष भारती के तहत की जा रही है। अपने भतीजे की हत्या के बाद संतोष मिश्रा ने बिहार राज्य के कानून व्यवस्था पर सवाल खड़े किए हैं और कहा है कि राज्य में आए दिन हत्याओं का सिलसिला बढ़ रहा है।

संतोष मिश्रा ने कहा कि इस सरकार के शासन के तहत जब विधायक का भतीजा सुरक्षित नहीं है, तो आम लोगों की क्या स्थिति होगी? राज्य में हत्याओं का सिलसिला लगातार बढ़ रहा है। इसके अलावा जहरीली शराब पीने के बाद लोगों की मौत हो रही है लेकिन सरकार खुद अपनी पीठ थपथपा रही है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here