वैक्सीनेशन ड्राइव के तीसरे चरण की शुरुआत आज से हो गई है। पूरे देश में 60 की उम्र पार कर चुके लोगों को आज से कोरोना वैक्सीन लगेगी। इसे लेकर मध्यप्रदेश में तैयारी पूरी कर ली गई है। सरकारी और प्राइवेट केंद्रों पर आज से वैक्सीन लगेगी। वैक्सीनेशन की शुरुआत सुबह 9 बजे से होगी। वैक्सीन लगवाने के लिए बुजुर्गों को पहले रजिस्ट्रेशन करवाना होगा।


मध्यप्रदेश के 52 जिलों में कुल 148 सरकारी और 38 प्राइवेट अस्पताल में वैक्सीनेशन की व्यवस्था की गई है। इस दौरान 60 साल के बुजुर्गों और कई बीमारियों से पीड़ित लोगों (कोमोरबिडिटी) को टीका लगाया जाएगा। कोमोरबिडिटी वाले लोगों को की 45-60 के बीच होगी। इसके लिए उन्हें मेडिकल ऑफिसर से लेकर सर्टिफिकेट देना होगा कि वह विभिन्न प्रकार के बीमारियों से पीड़ित हैं। उसके बाद उन्हें टीका लगाया जाएगा।

ये है प्रक्रिया

स्वास्थ्य मंत्री प्रभुराम चौधरी ने बताया कि अगर 60 साल के बुजुर्ग टीका लगवाना चाहते हैं तो इसके लिए उन्हें कोविन 2.0 पोर्टल पर एडवांस में रजिस्ट्रेशन करवाना होगा। इसके लिए उन्हें आईडी कार्ड की भी जरूरत पड़ेगी। यहीं से उन्हें निर्धारित समय के बारे में जानकारी मिल जाएगी। उसी समय पर टीकाकरण केंद्र पर पहुंचेंगे और उन्हें टीका लग जाएगा। मंत्री ने बताया कि तीसरे चरण में टीकाकरण के लिए 71.62 लाख बुजुर्गों को चिह्नित किया गया है। सरकारी स्तर पर तैयारी पूरी कर ली गई है।

मंत्री ने कहा कि पूरे प्रदेश में वैक्सीनेशन के लिए 186 केंद्र बनाए गए हैं, इनमें 51 जिला अस्पताल, 84 सिविल अस्पताल, 13 मेडिकल कॉलेज, 3 प्राइवेट मेडिकल कॉलेज और 35 प्राइवेट अस्पताल हैं। सभी जिलों में स्थित जिला अस्पताल में टीकाकरण की व्यवस्था की गई है। उन्होंने कहा कि कुछ दिनों में टीकाकरण केंद्रों की संख्या बढ़ाई जाएगी। हम एमपी में 5 हजार से ज्यादा टीकाकरण केंद्र की व्यवस्था करेंगे।

कैसे करें रजिस्ट्रेशन
आपको वैक्सीन लगवाने के लिए कोविन 2.0 पोर्टल (www.cowin.gov.in) पर जाकर डेट और वैक्सीन सेंटर सलेक्ट करें। उसके बाद अपनी आईडी अपलोड करें। इसके साथ ही अगर आप कोमोरबिडिटी में आते हैं तो मेडिकल ऑफिसर की तरफ से जारी सर्टिफिकेट को अपलोड करें। रजिस्ट्रेशन की शुरुआत सुबह 9 बजे होगी और दोपहर 3 बजे बंद हो जाएगी।

क्या है कोमोरबिडिटी
तीसरे चरण में कोमोरबिडिटी शब्द की चर्चा खूब हो रही है। ऐसे में कई लोग जानना भी चाह रहे हैं कि यह शब्द क्या है। कोमोरबिडिटी का मतलब है, जिन्हें पहले से कई बीमारियां हैं। जैसे डायबिटीज, ब्लड प्रेशर, अस्थमा, फेफड़े की बीमारी, एचआईवी और कैंसर जैसी गंभीर बीमारी है। ऐसे लोगों में इम्यूनिटी कम हो जाती है। ऐसे लोगों को जब संक्रमण होता है, तो वायरस गंभीर रूप से अटैक करता है। ऐसे लोगों में संक्रमण तेजी से फैलता है। कोमोरबिडिटी में 45-60 साल के लोगों को रखा गया है। ये लोग भी टीका लगवा सकते हैं।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here