अपना जन्मदिन मनाते रतन टाटा


न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली
Published by: Jeet Kumar
Updated Thu, 30 Dec 2021 12:33 AM IST

सार

28 दिसंबर 2012 को उन्होंने टाटा ग्रुप के अध्यक्ष पद को छोड़ दिया मगर वे अभी भी टाटा समूह के चैरिटेबल ट्रस्ट के अध्यक्ष हैं।

अपना जन्मदिन मनाते रतन टाटा
– फोटो : twitter

ख़बर सुनें

देश के सबसे बड़े उद्योगपतियों में शुमार रतन टाटा का 28 दिसंबर को 84वां जन्मदिन था। अब उनका सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है इसमें दिखाई दे रहा है कि टाटा एक बच्चे के साथ कपकेक काट रहे हैं। साथ ही उसमें लगी मोमबत्ती को फूंक मार रहे हैं और अपना जन्मदिन मना रहे हैं। इसके बाद वह बच्चा खड़ा होता है और रतन टाटा को केक खिलाता है। यह वीडियो तेजी से सोशल मीडिया पर फैल रहा है।
 

रतन टाटा का जन्म भारत के सूरत में हुआ था
रतन टाटा का जन्म 28 दिसंबर, 1937 को भारत के सूरत शहर में हुआ था। रतन टाटा नवल टाटा के बेटे हैं जिन्हे नवजबाई टाटा ने अपने पति रतनजी टाटा की मृत्यु के बाद गोद लिया था। रतन टाटा की शुरुआती शिक्षा मुंबई के कैंपियन स्कूल से हुई और कैथेड्रल में ही अपनी माध्यमिक शिक्षा प्राप्त की। इसके बाद उन्होंने जॉन केनौन कॉलेज से वास्तुकला में अपनी बीएससी की। फिर कॉर्नेल यूनिवर्सिटी से 1962 में संचारात्मक इंजीनियरिंग और 1975 में हार्वर्ड बिजनेस स्कूल से एडवांस मैनेजमेंट प्रोग्राम किया।

1991 से 2012 तक टाटा ग्रुप के अध्यक्ष
रतन टाटा साल 1991 से लेकर 2012 तक टाटा ग्रुप के अध्यक्ष रहे। 28 दिसंबर 2012 को उन्होंने टाटा ग्रुप के अध्यक्ष पद को छोड़ दिया मगर वे अभी भी टाटा समूह के चैरिटेबल ट्रस्ट के अध्यक्ष हैं। अपने कार्यकाल में वे टाटा ग्रुप के सभी प्रमुख कम्पनियों जैसे टाटा स्टील, टाटा मोटर्स, टाटा पावर, टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज, टाटा टी, टाटा केमिकल्स, इंडियन होटल्स और टाटा टेलीसर्विसेज के भी अध्यक्ष थे। उनके नेतृत्व में टाटा ग्रुप ने नई ऊंचाइयों का हासिल किया।

सामाजिक कार्यों में बढ़-चढ़कर भागीदारी
बता दें कि रतन टाटा का परिवार हमेशा से ही सामाजिक और धार्मिक कार्यों में आगे रहता है। रतन टाटा को हमेशा गरीबों और जरूरतमंदों की मदद करते हुए देखा जाता है। कोरोना महामारी के दौर की अगर बात करें तो उन्होंने पीएम केयर्स फंड में 500 करोड़ की बड़ी राशि दान की थी और इसके अलावा भी वे कई तरह के सामजिक कार्यों में बढ़-चढ़कर भागीदारी करते हैं।

नोट- यह वीडियो सोशल मीडिया पर प्रसारित हो रहा है। इस वीडियो की अमर उजाला पुष्टि नहीं करता है।

विस्तार

देश के सबसे बड़े उद्योगपतियों में शुमार रतन टाटा का 28 दिसंबर को 84वां जन्मदिन था। अब उनका सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है इसमें दिखाई दे रहा है कि टाटा एक बच्चे के साथ कपकेक काट रहे हैं। साथ ही उसमें लगी मोमबत्ती को फूंक मार रहे हैं और अपना जन्मदिन मना रहे हैं। इसके बाद वह बच्चा खड़ा होता है और रतन टाटा को केक खिलाता है। यह वीडियो तेजी से सोशल मीडिया पर फैल रहा है।

 

रतन टाटा का जन्म भारत के सूरत में हुआ था

रतन टाटा का जन्म 28 दिसंबर, 1937 को भारत के सूरत शहर में हुआ था। रतन टाटा नवल टाटा के बेटे हैं जिन्हे नवजबाई टाटा ने अपने पति रतनजी टाटा की मृत्यु के बाद गोद लिया था। रतन टाटा की शुरुआती शिक्षा मुंबई के कैंपियन स्कूल से हुई और कैथेड्रल में ही अपनी माध्यमिक शिक्षा प्राप्त की। इसके बाद उन्होंने जॉन केनौन कॉलेज से वास्तुकला में अपनी बीएससी की। फिर कॉर्नेल यूनिवर्सिटी से 1962 में संचारात्मक इंजीनियरिंग और 1975 में हार्वर्ड बिजनेस स्कूल से एडवांस मैनेजमेंट प्रोग्राम किया।

1991 से 2012 तक टाटा ग्रुप के अध्यक्ष

रतन टाटा साल 1991 से लेकर 2012 तक टाटा ग्रुप के अध्यक्ष रहे। 28 दिसंबर 2012 को उन्होंने टाटा ग्रुप के अध्यक्ष पद को छोड़ दिया मगर वे अभी भी टाटा समूह के चैरिटेबल ट्रस्ट के अध्यक्ष हैं। अपने कार्यकाल में वे टाटा ग्रुप के सभी प्रमुख कम्पनियों जैसे टाटा स्टील, टाटा मोटर्स, टाटा पावर, टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज, टाटा टी, टाटा केमिकल्स, इंडियन होटल्स और टाटा टेलीसर्विसेज के भी अध्यक्ष थे। उनके नेतृत्व में टाटा ग्रुप ने नई ऊंचाइयों का हासिल किया।

सामाजिक कार्यों में बढ़-चढ़कर भागीदारी

बता दें कि रतन टाटा का परिवार हमेशा से ही सामाजिक और धार्मिक कार्यों में आगे रहता है। रतन टाटा को हमेशा गरीबों और जरूरतमंदों की मदद करते हुए देखा जाता है। कोरोना महामारी के दौर की अगर बात करें तो उन्होंने पीएम केयर्स फंड में 500 करोड़ की बड़ी राशि दान की थी और इसके अलावा भी वे कई तरह के सामजिक कार्यों में बढ़-चढ़कर भागीदारी करते हैं।

नोट- यह वीडियो सोशल मीडिया पर प्रसारित हो रहा है। इस वीडियो की अमर उजाला पुष्टि नहीं करता है।





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here