कुछ अहसास दोस्ती के…

जब कभी मेरे दिमाग में दोस्ती या दोस्त नाम का शब्द आता है तो मुझे एक ऐसा एहसास होता है जिसे मैं शब्दों में...

आर्कटिक के लोग सील मछली का शिकार कैसे करते हैं?

शहर की चकाचौंध –विकास , और फेस्टीविटी से दूर, वाल्मीकि मोहल्ले में चुरायी हुई इंटों-प्लास्टिक की शीट और टूटे एस्बेस्टर की छत से बने...

जानिए टाइटैनिक की डूबने की वजह…

क्या आपको मालूम है कि टाइटैनिक बहरी जहाज जो कि "1912 में 14 और 15 अप्रैल" की दरमियानी शब को समुंदर में डूब गया...

लो बिक गया ये लाला किला! अगला नंबर ताजमहल का

अभी सुप्रीम कोर्ट में ताजमहल की अधिकारिकता का मुद्दा सुलझा भी नही है कि लाल किले के बिकने की खबर ने सबको सकते में...

वर्ल्ड प्रेस फ्रीडम डे: क्यूँ मनाया जाता है ये दिन? क्या है आज भारतीय...

मीडिया को लोकतन्त्र के चौथे स्तम्भ के रूप में जाना जाता है। किन्तु कई कारणों की वजह से ये स्तम्भ अपनी नींव पर अपनी...

“मोहब्बत नही की थी”

अरमानों भर के लिए मोहब्बत नहीं की थी। उस रोज भी मैंने कोई शिकायत नहीं की थी।।   तेरे ज़ख्मों को भरने की एक कोशिश थी बस। दोस्त...

एक तरफ़ा मोहब्बत…

जब मैंने “ऐ दिल है मुश्किल” फ़िल्म देखी तो वो फ़िल्म मुझे बेहद ही अच्छी लगा,पता नहीं क्यों उस फिल्म को देखते हुए दिल...

भीड़- अशोक कुमार पाण्डेय.

भीड़ • अशोक कुमार पाण्डेय (एक) टिड्डियों की तरह उभर आये हैं कितने ही चेहरे अचानक कितना शोर कैसी भाग दौड़ जैसे भूकम्प के बाद की सड़क आवाज़ें गड्डमगड्ड...

बचाने से मर जाती है भाषा…

कुछ लोग भोजपुरी को बचाने का ठेका ले लिए हैं | ठेकेदारों की संख्या भी लगातार बढती जा रही है | सब एक दूसरे...

किताबे जो हमे बदलती हैं…

किताबे,पुस्तक और बुक्स इन तीनो ही शब्दों के मायने एक है लेकिन एक है "किताब" जो क़ुरान है,जो गीता है और गुरु ग्रन्थ साहिब...

Follow us

5,231FansLike
49FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest news